I Love Shayari in Hindi | Collections for Love Shayari | बेस्ट लव शायरी | 2020-2021

I Love Shayari in Hindi, Best Collection for Love Shayari in Hindi


हमने कुछ लफ्ज़ लिखें हैं लहरों पर,

दरिया तुम्हारे शहर से गुज़रे तो पढ़ लेना.!!

Hamane kuch lafz likhe hai laharo par,

Dariya tumhare shaher se guzare to pad lena.


अखबार के किसी भी पन्नें पर उसका ज़िक्र तक नहीं,

लोग यूँ ही कहते हैं दुनिया भर की खबरें आती हैं इसमें…!!

Akhbar ke kisi bhi panne pr uska zikar tak nhi hai,
Log you hi kahate hai duniya bhar hi khabre aat hai isme.||


साईकिल भी पहचानती थी

  मोहब्बत की राहें,

चैन भी उतरती थी तो उसी के

      मोहल्ले में।।

Cycle bhi pahchanti thi,

 Mohabbat ki rahe,

Chain bhi utarti this to usi ke

Mahoalle  me.


अपने चेहरे से जो ज़ाहिर है छुपाएँ कैसे…

तेरी मर्ज़ी के मुताबिक़ नज़र आएँ कैसे..

Apne chehare se jo zahir hai chupaye kaise,

Teri Marzi ke mutabik nazar aye kaise.


वो हाथों में कंगन दिखा दिखा के समझा रही थी

हो चुकी हूँ परायी इशारों में बता रही थी…

Wo hatho me kangan dikha dikha ke smjha rhi thi,

Ho chuki hai Parayi isharo me bta rhi thi.


रिक्वेस्ट ,अनफ्रेंड, ब्लॉक ये सब तो फैशन है,

मुरझाए फूल किताबों में मिलना बड़ी बात है..😎

Request, unfriend, Block ye sab to faishon hai,

Murjhaye fool kitabo me milna badi bat hai.


वो साथ थी तो एक लफ़्ज़ ना निकला लबों से,

दूर क्या हुए… कलम ने क़हर मचा दिया…!!

Wo sath thi to ak lafz na nikla labo se,

Door kya huye… kalam ne kahar mcha diya..||

Best I Love Shayari, Love Quotes in Hindi


🌹नीची #नजर में होता है #कयामत सा #असर…!! 🌹

🌹#हुस्न कुछ और #निखर जाता है #शर्माने के बाद…!!! 🌹

NIchi Nazar me hota hai, Kayamat sa asar..||

Husan kuch ar nikhar jara hai sarmane ke bad||


पागल दिल की ख्वाहिश तो देखो

मोहब्बत तो दूसरी करनी है…!!!

पर महेबूब पुराना चाहिए…☆

Pagal dil ki khawish to dekho,

Mohabbat to Dusari karani hai,
Par Mahboob purana chahiye..


कुछ तो उधार बाकी है, आपका मुझ पर….

वरना यूँ ही नहीं जुड़ते शब्दो के धागे…!!

Kuch to udhar baki hai, Apka mujh par,

Warna yu hi nhi judate sabdo ke dhage.. 


कौन कहता है कि दूरियां हमेशा किलोमीटरों में नापी जाती हैं…

कभी कभी “ख़ुद” से मिलने में भी “जिंदगी” गुज़र जाती है.

Kaun kahata hai duriya hamesha kilometer me naapi jati hai..

Kabhi kabhi khud se milane me bhi Zindagi Guzar jati hai.|||


फ़िज़ा में गूंज रही महक अदरक की आज सर्दी भी चाय की तलबगार हो गई..

 आदये तो देखिए बदमाश चायपत्ती की जरा से दूध से क्या मिली शर्म से लाल हो गई..!!

Fizza me goonz rahi hai mahak adark ki aaj sardi me bhi chai ka talabdaar ho gayi,

Addaye to dekhiye badmash chaipatti ki zara se doodh se kya mili sarm se lal ho gyi.


अब video call होता है,🌹

तब बालकनी to बालकनी दीदार होता था।।🌹

ये उन दिनों की बात है,🌹

जब प्यार time pass नहीं बस प्यार होता था।।🌹

Miss call में कहाँ है वो मजा,🌹

जो अचानक कही टकरा जाने में आता था।।🌹

Text तो अब होते है दोस्तों,🌹

तब तो इशारों का मौसम भाता था।।🌹

इंतज़ार के वो पल भी हसीन हुआ करते थे,🌹

ना ना तब हम offline नहीं बल्कि,

अपनी छत पर खड़े उनकी यादों में,🌹

तल्लीन हुआ करते थे।।🌹

आज जो नाराजगी,🌹

Post से जाहिर की जाती है।।🌹

उस वक़्त जब रूठते थे जो इश्क़ में,🌹

उस दिन बालकनी खाली रह जाती थी।।🌹

वो मोहब्बत भी क्या मोहब्बत थी,🌹

जो दिलों को एक सुकून दे जाती थी।।🌹

आज तो जरा सी बात पर रिश्ते होते है block.🌹

एक वो रिश्ता है जो दिल में,🌹

अब तक यकीनन होगा lock…..🌹

Aj Video call hota hai, 

Tab Balkani to balkani didar hota tha|| 

Ye un dino ki bat hai,

 jb pyar time pass nhi bas pyar hota tha|| 

 Miss all me kha hai wo mza, 

jo achanak kahi takra jane me atta tha|| 

Text to ab hote hai dosto, 

Tab to isharo ka mausam bhata tha||

 Intezar ke wo pal bhi haseen hua karte the, 

na na tab ham offline nhi balki,

 apni chhat pr kade unko yaado me taleen hua karte the|| 

Aaj to narazagi, post se zahir ki jaati hai, 

us wakt jab rutate the jo isak me us din balkani khali rah jati thi|| 

Wo mohabbat bhi kya mohabbat thi, 

jo dil ko ak sukun de jati thi|| 

Aaj to zara si bat par riste hote hai block, 

ak wo rista hai jo dil me ab tak yakinan hoga lock ||


पुरानी यादें

इज़हार ए इश्क़ का अब भी हमको वो फ़साना याद है, 

नंबर पतंग पे लिख कर छत पे गिराना याद है..😎

Purani yaande,
Izhar a isak ka ab bhi hamko wo fasana yaad hai,

Number patang pe likh kr chhat pe girana yaad hai||


डरपोक है वो लोग जो मोहब्बत नही करते ……..

हौसला चाहिए बरबाद होने के लिए ……….

Darpok hai wo log jo mohabbat nhi karte

Hausala chahiye barabad hone ke liye||


उम्र को एहसासों से दुःखी ना

     बनाओ यारो _ _ _

सफ़ेदी बालो पर उतरी है दिल

का रंग आज भी वही है_ 

Umr ke ahsas se dukhi na,

Banao yaaro 

Safedi ballo par utari hai dil,

La rang aaj bhi whi hai


मेरा इश्क ग्रामीण है, जनाब.. 

हमे उसके जींस पहनने से ज्यादा,

दुपट्टा ओढ़ने का लहजा भा जाता हैं

Mera isak gramin hai,janab..

Hame uske jeans pahanane se jyada,

Duptta odhane ke lhza bha jata hai.


अल्फ़ाज़ के दीवाने तो

      बहुत है मेरे,

तालाश तो ख़ामोशी पढ़ने

       वालो की है.😊

Alfaz ke diwane to,
Bahut hai mere,

Talash to khamoshi padane,

Walo ki hai||


माना कि तुम्हारी खूबसूरती का

          कोई जवाब नही….

हर पैमाने में उतर जाय

        हम भी वो शराब नही..✍🏻

Mana ko tumahari Khobsorati ka,

Koi jawab nhi…

Har paimane me utar jay,

Ham bhi wo sharab nhi  

Updated: April 21, 2020 — 8:08 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *